Header Ads

learn:c/c++ Difference between C and C++ programming language in hindi

Difference between C and C++ programming language in hindi

c और c++ me kya difference है hindi me जाने
अभी तक हमने c and c++ के बारे में बहुत जाना लेकिन क्या आपको ये पता है की in दोनों programming language के बीच difference क्या है
तो चलिए आज की post उन्ही लोगो के लिए है जिनको अभी तक c and c++ के बारे में difference नही पता है .

वैसे c and c++ दोनों ही programming language है
in दोनों programming language में main difference ये है की c simple procedural language है इसलिए ये procedural programming prototype को follow करती है and classes/object को support नही करती है जबकि c++ एक multiprototype language है इसका मतलब यह है की procedural language के साथ – साथ object oriented programming language भी है . c++ में c के सभी फीचर है . c++ की खास बात ये है की यह object oriented language है .
hindimesolution.com

difference bitween c and c++ hindi में

      c language
   c++ language
c language को dennis ritchie ने at & t bell labs में develop किया था  
 c++ को bjarne stroustrup ने 1979 में develop किया था
c reference variable को support नही करती है
c++ reference variable को support करती है
c language में data secure नहीं होता है
c++ में data secure रहता है .
c information hiding support नही करती है
 c++ में data encapsulation की help से hide होता है इसलिए data secured माना जाता है
c operator overloading को support नहीं करती है
c++ operator overloading को support करती है
c language में value को print करने के लिए printf function use किया जाता है
c++ में cout use किया जाता है
printf function #include<stdio.h> header file में होता है
 cout header file #include<iosstram.h>
में होता है

  और भी बहुत से difference हो सकते है . हम c++ या c दोनों को मिलाकर भी program बना सकते है .
ये जरूरी नही है कि c में केवल c का ही कोड लिखा जायेगा और c++ में केवल c++ का ऐसा नही है.
हम code को combine करके लिख सकते है  .

अगर आपको अभी भी कुछ dout है तो आप comment में लिख कर पूछ सकते है 

No comments

Powered by Blogger.